जंगली सुअर के शिकार के लिए लगाए गए धारा प्रवाहित तार में फंसने से किसान हुई मौत

11 केवी लाइन वाली खंभे से बांस के जरिए तार उतारा गया था। लकड़ी की खूंटी गाड़कर जीआई तार की बाड़ बनाई गई थी। तार जमीन से लगभग एक फीट ऊंचाई पर था। 

अनूपपुर । चचाई  थाना क्षेत्र बरगवां  में अज्ञात द्वारा जंगली सूअर के शिकार के लिए 11 केवीए  बिजली चोरी कर बिछाए करंट प्रवाहित तार की चपेट में आने से बेटे के साथ फसल की रखवाली करने जा रहे बेगुनाह बुजुर्ग किसान की मौत हो गई। घटना से किसान का हाथ पैर व शरीर का अन्य हिस्सा झुलस गया है ।जानकारी के अनुसार बरगवां  निवासी रामस्वारथ राजभर ने गांव से दो  किलोमीटर दूर अपने खेत में धान की फसल लगाया है जो कटाई के करीब है। रामस्वारथ राजभर का खेत जंगल से घिरा है इसलिए जंगली सूअर अक्सर किसानों की फसलों को चौपट कर देते हैं। यही वजह है कि रामस्वारथ राजभर अपने बेटे  के साथ खेत की रखवाली करने के लिए शुक्रवार रात लगभग 9 बजे घर से निकला। किसान पिता-पुत्र आपस में बतियाते हुए पैदल अपने खेत जा रहे रहे।इस बीच श्री हनुमान मंदिर से लगे हुए डैम के किनारे राश्ते में लगे करंट प्रवाहित जीआई तार से रामस्वारथ राजभर के टकराते ही अचानक ऐसी चिंगारी उठी कि बुजुर्ग किसान गिरकर तड़पने लगा । पिता को अनहोनी के शिकार होते देख बदहवास पुत्र ने  टॉर्च जलाकर देखा तो ज्ञात हुआ कि  बांस का खूंटा गाड़ते हुए उसमें बिजली चोरी कर जीआई तार फैला रखा था, ताकि सूअर का शिकार किया जा सके। इस खतरनाक लापरवाही से बुजुर्ग किसान रामस्वारथ  के भेंट चढऩे की करतूत सामने आते ही ग्रामीणों ने इसकी सुचना पुलिस को दी। 



Popular posts
जनप्रतिनिधियों और मुख्य नगरपालिका अधिकारी आपस में सामंजस्य स्थापित कर करे अनूपपुर का विकास : श्रीमती डॉक्टर प्रवीण त्रिपाठी
Image
सॉफ्टबेसबॉल में संभाग को मिले दस नये राष्ट्रीय रेफरी
Image
शंकर बाबू की धर्मपत्नी दुलारी शर्मा के निधन पर आर्यवर्त ब्राह्मण महासभा के द्वारा दी गई श्रद्धांजलि
Image
प्रदेश के 43 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू