मकर संक्रांति के उपरांत, स्थानीय निकाय नगर पंचायत जैतहरी के चुनाव की राजनीतिक संक्रांति मेला पर नजर डालें, उससे पूर्व मन की बात


अनूपपुर । "किसी भी मत के अनुगामी दो तरह के होते हैं पहले वे जो उस मत को आत्मसात करते हैं दूसरे वे जो लकीर के फकीर बने मात्र भोंपू होते हैं। इन्हें डरकती जमीर और खिसकती जमीन से कोई वास्ता नही होता। राजनीति के क्षेत्र में ऐसे भोपूओं का आचरण सत्ता के स्वाद पर निर्भर रहता है। स्वादानुसार रंग बदलने वाले राजनीति के ये खिलाड़ी अनुशासन के सैद्धांतिक संसय शोधन से बिचलित हो जाते हैं। तर्क दिया जाता है कि जो मेहनत करता है वही सफल होता है, इस आधार पर तो गधा सर्वाधिक सफल होता किन्तु गधों का मालिक सफल होता है। क्रूर अमीर मालिक का नौकर वही होता है जिसे अपने ऊपर हो रहे शोषण का बोध नही होता। जनता को समस्या के मूल से भटकाने का काम राजनीतिक भोंपुओं के पास होता है। ज्ञानीजन चिंतन अवश्य करेंगे कि सम्मोहन के भ्रमजाल को कैसे तोडना है "।


प्रधानमंत्री आवास योजना में किये गये अनियमितताओं की चर्चाओं के गर्म माहौल में हो रहे नगर पंचायत चुनाव ने नगर का राजनीतिक पारा बढ़ चुका है। कांग्रेस और भाजपा के लोग अपना अपना परचम लहराने के लिए भरी ठण्ड में पसीना बहा रहें हैं। इन दोनों दलों के अतिरिक्त अवसरवादियों का एक शसक्त जमात भी है जो चुनाव जीतने के प्रति आश्वासत है। एक ओर जहाँ लोकप्रिय पूर्व अध्यक्ष अवधेश "राम " अग्रवाल के प्रत्यक्ष चुनावी मैदान में न होने से भाजपा ख़ुश है लेकिन दूसरी ओर मप्र शासन के खाद्यमंत्री बिसाहूलाल सिंह का, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्षो के साथ प्रगाढ़ आत्मीय संबंध होने के कारण भाजपाई उम्मीदवार भीतरघात होने की आशंका से सशंकित भी हैं। भाजपा के उन उम्मीदवारों को, जो अध्यक्ष पद के संभावित दावेदार हैं, अन्य निकायों में भाजपा के जिलाअध्यक्ष द्वारा किये गये नवाचार ( निर्दलीय व कांग्रेस को प्राथमिकता )के आचरण ने भयभीत कर रखा है ।

कांग्रेस एकजुटता के साथ इस चुनाव को लड़ने व जीतने का दावा तो कर रही है लेकिन अभूतपूर्व जिला अध्यक्ष फूंदेलाल विधायक का इस चुनाव में उनके सक्रिय योगदान का न होना, मंत्रीजी के सानिध्य में कांग्रेसी मित्रों का नवाचार में शामिल होने की आशंका को बल मिलता है। जैतहरी नगर में नही बल्कि जिला अनूपपुर में यह चर्चा जोरों पर है कि जीते कोई भी अध्यक्ष तो मंत्री जी की पसंद का ही बनेगा और ऐसा होना भी चाहिए क्योंकि मंत्रीजी के चातुर्य और सक्रियता के कारण बहती विकास की गंगा में विरोधी डूब रहें है। हर ग़रीब को अनाज व आवास एवं हर खेत को पानी की परिकल्पना का साकार होना,माननीय मंत्रीजी के आगामी विधानसभा चुनाव के परिदृश्य को बदल कर रख देगा। कर्तव्यबोध को बौना करता, मित्रबोध जैतहरी नगर को अनूपपुर नगर पालिका की तरह लोकप्रिय परिषद व अध्यक्ष मिले, "आम आदमी" पर विश्वास क़ायम रहे मानस मन की यह कामना पूर्ण होगी, ऐसी आपेक्षा है।

Popular posts
आम जनता’’ के लिए बजट! परन्तु ‘‘आम’’ व्यक्ति गायब?
Image
शिक्षाविद गिजूभाई सम्मान 2023 राज्य स्तरीय सम्मान से सम्मानित हुए शिक्षक
Image
बरगवां अमलाई मेला मैदान अतिक्रमण की चपेट में ,अतिक्रमण होने से हाट बाजार में बदल गया मकर संक्रांति का मेला
Image
कारगिल विजय दिवस: 18 हजार फीट की ऊंचाई, 527 जवान शहीद, तब फहरा था तिरंगा
खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री बिसाहूलाल सिंह का 17 सितम्बर को होगा अनूपपुर आगमन 20 सितंबर तक रहेंगे अनूपपुर के प्रवास पर, गरीब कल्याण सप्ताह के कार्यक्रमों में होंगे शामिल  
Image