गैर राजनीति वा चंदा रहित से ब्राम्हण बंधुओं में आई एकजुटता - पं. रामनारायण द्विवेदी

नरियल एवं जनेऊ लेकर दी जाएगी सदस्यता, मातृ नेतृत्व में जल्द होगा उपनयन संस्कार



अनूपपुर । जिला मुख्यालय अंतर्गत चेतना नगर में स्थित शनिधाम में ब्राम्हण समाज द्वारा संयुक्त रूप से एकजुट होकर भगवान परशुराम जयंती का वृहद कार्यक्रम करते हुए अन्य ब्राम्हण संगठन को एक मिशाल दिया गया। शनि धाम में परशुराम जयंती के अवसर पर जहां धार्मिक अनुष्ठान विधिवत पूजा अर्चन कर उनके कृतित्व एवं व्यक्तित्व पर बैठकर चर्चा की गई। इसके साथ ही गौरव, चरित्र, संस्कार, समाज निर्माण सहित उपनयन संस्कार तथा सामूहिक कन्या विवाह का भी संकल्प लिया गया। 

तीन संगठनों का हुआ समागम

शनिधाम में ब्राम्हण समाज द्वारा परशुराम जयंती के कार्यक्रम के दौरान तीन संगठनों जिनमें आर्यावर्त ब्राम्हण महासभा, अखिल भारतीय ब्राम्हण एकता, ऑल इंडिया ब्राम्हण एकता एशोसिएशन के जिलाध्यक्षों एवं पदाधिकारियों द्वारा ब्राम्हण समाज में एकजुटता लाने कई महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर चर्चा करते हुए निर्णय लिया गया। जिसमें उक्त तीनों संगठनों द्वारा विप्र परिषद के संयोजन में समाज हित में कार्य करने सहमति जताई। इस अवसर पर विप्र समाज के जिला संयोजक पं. राम नारायण द्विवेदी, आर्यावृर्त ब्राम्हण समाज के जिलाध्यक्ष पं. चैतन्य मिश्रा, अखिल भारतीय ब्राम्हण एकता के जिलाध्यक्ष पं. विद्याधर शर्मा, ऑल इंडिया ब्राम्हण एकता एशोसिएशन के जिलाध्यक्ष पं. जर्नादन मिश्रा सहित जिले भर के ग्रामीण क्षेत्रों से आए विप्र बंधु उपस्थित रहे। 

सभी आयोजन गैर राजनीतिक व चंदा रहित

तीनों संगठनों ने निर्णय लिया है कि समाज को आगे लाने एवं आगामी होने वाले धार्मिक आयोजनों एवं गतिविधियों को गैर राजनीति रखा जाएगा। जिससे धर्म एवं समाज की आड़ में अपनी राजनीति रोटी सेकने वाले संगठनों का दूर रख वास्तविक रूप से समाज एवं धर्म का उत्थान किया जाएगा। इसके साथ ही आगामी होने वाले आयोजन जिसमें समाज निर्माण सहित उपनयन संस्कार तथा सामूहिक कन्या विवाह के लिए विप्र परिषद द्वारा किसी भी व्यक्ति या फिर किसी भी संस्था से चंदे के रूप में कोई राशि नही ली जाएगी। उक्त कार्यक्रम को विप्र जनों द्वारा स्वयं आपसी सहयोग वा तालमेल कर अनुकरणीय कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा।

नरियल एवं जनेऊ से मिलेगी सदस्यता

विप्र समाज द्वारा किए गए चर्चा में निर्णय लिया गया कि आगामी होने वाले विविध आयोजनों में विप्र बंधुओं से सदस्यता के रूप में एक नरियल (श्रीफल), जनेऊ सहित एक मुठ्ठी चावल मात्र लिया जाएगा। इसके साथ ही पूरे जिले में भ्रमण कर विप्र बंधुओं को सदस्यता दिलाया जाएगा। इसके लिए पवित्र नगरी अमरकंटक के नर्मदा जल लेकर बरने खोडऱी नदी के पास से होते हुए वेंकटनगर से बकही तक भ्रमण करते हुए विप्र बंधुओं से संपर्क कर समाज हित में संदेश देते हुए सदस्यता दिलाई जाएगी।

एक वर्ष बाद होगा ब्राम्हण भेंट सम्मेलन

ब्राम्हण बधुओं ने बताया कि सदस्यता से प्राप्त नरियल, जनेऊ एवं एक मुठ्ठी चावल को एकत्रित कर एक वर्ष बाद ब्राम्हण सम्मेलन का आयोजन जिला मुख्यालय में किया जाएगा तथा समस्त विप्र बंधुओं से उसी नरियल एवं जनेऊ का भेंट कर उन्हे सम्मानित करते हुए भेंट स्वरूप मिले चावल से खिचड़ी भोग का प्रसाद वितरण कर विप्र बंधुओं को समाज हित में आगे आकर ब्राम्हण समाज की एकजुटता का मिशाल पेश किया जाएगा।

जल्द ही होगा उपनयन संस्कार

विप्र महिलाओं ने भी समाज को एक नई दिशा दिखाने के लिए विप्र माताओं श्रीमती सुनैना मिश्रा एवं श्रीमती रमा मिश्रा ने भी अपने निर्णय को विप्र बंधुओं के सामने रखा, जिसमें उन्होने आगामी आयोजन उपनयन संस्कार के अनुक्रम में बटुक के मॉ से भिक्षा लेकर गुरू आश्रम में देना पड़ता है, जिस संस्कार को पूरे विधि विधान से ज्ञान और धर्म की शिक्षा हेतु ब्राम्हण संस्कारों वा गुणों जिनमें जनेऊ, शिखा, आचरण, गायत्री मंत्र आदि पर जोर दिया जाएगा। इस कार्यक्रम में सभी उपस्थित ब्राम्हण जनों द्वारा जल्द ही बटुको के उपनयन संस्कार की रूप रेखा तैयार करते हुए आयोजन किए जाने का निर्णय लिया गया है।

गैर राजनीति वा चंदा रहित आयोजन से हुए पं. कमलेश प्रभावित

चेतना नगर शनि धाम में विधि विधान से मनाए गए भगवान परशुराम जयंती वा ब्राम्हण बंधुओं की एकजुटता एवं आयोजन के द्वारा आगामी कार्ययोजना के लिए महत्वूर्ण निर्णय से प्रभावित होते हुए पं. कमलेश द्विवेदी ने स्वयं आगे आकर अपनी सहमति व्यक्त करते हुए बताया कि आगामी किए जाने वाले कार्य योजना के तहत किए जाने वाले कार्यक्रम गैर राजनीति वा चंदा रहित होने के कारण किसी भी आयोजन में आर्थिक रूप से मेरा सहयोग नि:स्वार्थ रूप से ब्राम्हण की एकजुटता और समाज हित के लिए पूरा रहेगा। किसी भी कार्यक्रम के दौरान विप्र बंधुओं की सहयोगात्मक समाज हित के लिए सर्वोपरि होती है, इसके लिए प्रत्येक आयोजनों में पूरा सहयोग रहेगा।

Popular posts
अमलाई का रेलवे गुड्स शेड फिर से होगा चालू : कोर्ट ने रेलवे के पक्ष में सुनाया फैसला!
Image
बरगवां मेला भूमि में अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन की दिखावे मात्र की कार्यवाही एक हिस्सा तोड़कर कर ली इतिश्री
Image
भगवा पार्टी ने शहडोल जिलाध्यक्ष सुभाष गुप्ता और उमरिया जिलाध्यक्ष अभिषेक तिवारी को किया पद मुक्त
Image
कम्युनिटी यूथ लीडर हेतु तीन दिवसीय प्रशिक्षण सम्पन्न
Image
निर्माणाधीन रेलवे फ्लाई ओवर ब्रिज बना अनूपपुर के लिए अभिशाप, आमजनों में बढ़ रहा आक्रोश
Image