घटिया निर्माण के कारन झिलमिल जलाशय फुटने के कगार पर, फरहदा पंचायत प्रभावित होने की बनी आशंका

झिलमिल जलाशय का निर्माण गुणवत्ता विहीन होने एवं बारिश के दौरान जलाशय पानी से लबाबल भर जाने पर जलाशय के सीपेज होने के साथ ही जलाशय ढहने के कगार पर ।



अनूपपुर,राजेन्द्रग्राम, । जनपद पंचायत पुष्पराजगढ़ अंतर्गत ग्राम पंचायत बीजापुरी के ग्राम झिलमिल में करोड़ो की लागत से बनाए गए झिलमिल जलाशय का निर्माण गुणवत्ता विहीन होने एवं बारिश के दौरान जलाशय पानी से लबाबल भर जाने पर जलाशय के सीपेज होने के साथ ही जलाशय ढहने के कगार पर पहुंच गई है। वहीं जलाशय में पानी भर जाने के बाद जलाशय के सीपेज को देखते हुए उसके ढह जाने के डर से जलाशय का पानी कम करने के लिए गेट को खोल दिया गया, जिसके कारण आसपास के कुछ किसानो की फसल भी नष्ट होना बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार जल संसाधन विभाग द्वारा आदिवासी उप योजना अंतर्गत झिलमिल जलाशय योजना वर्ष 2016 में १८५३.७५ लाख रूपए की लगातार से बनाए जाने हेतु स्वीकृति किए जाने के बाद १८ सितम्बर २०१६ को मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह, तत्कालीन प्रभारी मंत्री संजय पाठक, पुष्पराजगढ़ विधायक फुंदेलाल सिंह मार्को एवं जिला पंचायत अध्यक्ष रूपमति सिंह द्वारा भूमिपूजन किया गया था। जहां जल संसाधन विभाग द्वारा आज दिनांक तक निर्माण कार्य पूरा नही किया जा सका। जहां गुणवत्ता विहीन निर्माण कार्य के साथ निर्धारित मापदंडो के अनुरूप निर्माण सामग्री का उपयोग नही किए जाने के कारण बारिश के दौरान जलाशय पूरी तरह से भर हुआ है। जहां जलाशय से अब सीपेज होने के साथ ही फुटने के कगार पर है। जिसके कारण सिंचाई के लिए बनाए जा रहे इस जलाशय को लेकर क्षेत्र के किसान काफी नाराज है एवं इसकी शिकायत उच्चाधिकारियों से करने के बावजूद इस ओर किसी तरह का ध्यान नही दिया जा सका है। वहीं अब फरहदा पंचायत के एक गांव इस जलाशय के फुटने से प्रभावित होने की आशंका पर ग्रामीण परेशान व चिंतित हैं। किसानो का आरोप है कि उपयंत्री आर.ए. सोनी द्वारा इस जलाशय निर्माण में जमकर लापरवाही बरती गई है। जिससे किसानों के खेतों में पानी पहुचने से पहले जलाशय अब फुटने के कगार पर पहुंच गया है। 


Popular posts
जनप्रतिनिधियों और मुख्य नगरपालिका अधिकारी आपस में सामंजस्य स्थापित कर करे अनूपपुर का विकास : श्रीमती डॉक्टर प्रवीण त्रिपाठी
Image
जंगली सुअर के शिकार के लिए लगाए गए धारा प्रवाहित तार में फंसने से किसान हुई मौत
Image
सॉफ्टबेसबॉल में संभाग को मिले दस नये राष्ट्रीय रेफरी
Image
शंकर बाबू की धर्मपत्नी दुलारी शर्मा के निधन पर आर्यवर्त ब्राह्मण महासभा के द्वारा दी गई श्रद्धांजलि
Image
प्रदेश के 43 जिलों में धारा 144 के तहत निषेधाज्ञा लागू