भाजपा नेता चिन्मयानंद गिरफ्तार, 14 दिन की न्यायिक हिरासत


शुक्रवार सुबह यूपी पुलिस और एसआईटी ने चिन्मयानंद को उनके आश्रम से गिरफ्तार किया। चिन्मयानंद को कड़ी सुरक्षा के बीच चीफ जुडिशल मैजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया गया। अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में शाहजहांपुर जेल भेजने का आदेश दिया है


छात्रा से दुष्कर्म के आरोपी पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी नेता चिन्मयानंद को यूपी के शाहजहांपुर की एक कोर्ट ने न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया है। इससे पहले शुक्रवार सुबह यूपी पुलिस और एसआईटी ने चिन्मयानंद को उनके आश्रम से गिरफ्तार किया। चिन्मयानंद को कड़ी सुरक्षा के बीच चीफ जुडिशल मैजिस्ट्रेट कोर्ट में पेश किया गया। अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में शाहजहांपुर जेल भेजने का आदेश दिया है।इससे पहले पीड़िता की ओर से वीडियो जारी किए जाने के बाद से चिन्मयानंद की गिरफ्तारी की मांग की जा रही थी। चिन्मयानंद को गिरफ्तार करने बाद एसआईटी ने उसका मेडिकल टेस्ट कराया। इसके बाद ही एसआईटी ने भाजपा नेता को कोर्ट में पेश किया।  पीड़ित छात्रा ने चिन्मयानंद को गिरफ्तार न किए जाने पर आत्महत्या करने की धमकी दी थी। जांच में वीडियो सही पाए जाने पर चिन्मयानंद की गिरफ्तारी हुई है। इनके अलावा ब्लैकमेल करने वाले तीन अन्य लोगों को भी गिरफ्तार किया गया है।पिछले दिनों इस मामले में एसआईटी ने कॉलेज हॉस्‍टल की भी तलाशी ली थी, जहां से कुछ अहम सबूत बरामद हुए थे। वहीं, इससे पहले एसआईटी ने चिन्मयानंद के दिव्य धाम का एक कमरा भी सील कर दिया था। चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाने वाली छात्रा का मेडिकल टेस्ट भी कराया गया है। पिछले दिनों स्वामी चिन्मयानंद और एक लड़की का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। उसके बाद एसआईटी अपनी जांच में तेजी लाई है। लॉ की एक छात्रा ने पूर्व केंद्रीय मंत्री चिन्मयानंद पर यौन शोषण का आरोप लगाया है। इससे जुड़ा एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इन आरोपों के सिलसिले में पिछले शुक्रवार को एसआईटी की टीम ने करीब 7 घंटे तक स्वामी चिन्मयानंद से पूछताछ की थी। स्वामी चिन्मयानंद से पुलिस लाइन में स्थित एसआईटी के दफ्तर में पूछताछ की गई थी।लॉ छात्रा की ओर से लगाए गए आरोपों पर स्वामी चिन्मयानंद का कहना था कि वह जल्द ही एक विश्वविद्यालय का निर्माण करने जा रहे थे। लेकिन कुछ लोग चाहते हैं कि उसका निर्माण कार्य ना हो पाए। इसीलिए उनके खिलाफ पूरी साजिश की गई है और इसी के तहत आरोप लगाए गए हैं।