कलेक्टर ने नगर पंचायत क्षेत्र अमरकंटक को किया जल परिरक्षण क्षेत्र घोषित

म.प्र. पेयजल परिरक्षण अधिनियम 1986 अंतर्गत नर्मदा नदी उद्गम स्थल अमरकंटक के 500 मीटर की परिधि में नलकूप खनन को प्रतिबंधित एवं नियंत्रित करने के लिए जल परिरक्षण क्षेत्र घोषित किए हैं। इस परिधि में सक्षम अधिकारी की अनुमति के बिना कोई भी व्यक्ति या संस्था नलकूप खनन नहीं कर सकेंगे।


अनूपपुर। नगर पंचायत क्षेत्र अमरकंटक में नर्मदा नदी के प्रवाह को अप्रभावित तथा मूल स्वरूप में रखे जाने हेतु कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने म.प्र. पेयजल परिरक्षण अधिनियम 1986 अंतर्गत नर्मदा नदी उद्गम स्थल अमरकंटक के 500 मीटर की परिधि में नलकूप खनन को प्रतिबंधित एवं नियंत्रित करने के लिए जल परिरक्षण क्षेत्र घोषित किए हैं। इस परिधि में सक्षम अधिकारी की अनुमति के बिना कोई भी व्यक्ति या संस्था नलकूप खनन नहीं कर सकेंगे। नलकूप खनन की अनुज्ञा तभी दी जाएगी, जब उस स्थल के 150 मीटर के भीतर कोई ऐसा नलकूप न हो जिस पर सार्वजनिक जल प्रदाय आधारित हो। यदि व्यक्ति या संस्था द्वारा बिना अनुमति के नलकूप खनन किया जाएगा, तो वह म.प्र. पेयजल परिरक्षण अधिनियम 1986 की धारा 9 के अंतर्गत 2 वर्ष के कारावास या जुर्माने से जो दो हजार तक हो सकेगा या दोनो से दंडनीय होगा। नलकूप खनन की अनुमति अपर कलेक्टर द्वारा दी जाएगी। नलकूप खनन हेतु बोरिंग मशीन का पंजीयन नहीं होने पर उसे जप्त कर कानूनी कार्यवाही की जाएगी। नगर पंचायत अमरकंटक क्षेत्र के समस्त व्यक्तियों जिनमें विधिक व्यक्ति, संस्था, शासकीय विभाग एवं निकाय सभी पर समान रूप से लागू होगा। 


Popular posts
राज्यपाल के कार्यक्रम में जनजाति समाज के लोगों के जीवन को खतरे में डालने कि इन्दिरा गांधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्‍वविदयालय की साजिश .
Image
मध्य प्रदेश में सियासी हलचल तेज, मंत्री बिसाहूलाल सिंह को भोपाल लेजाने अचानक पंहुचा हेलीकॉप्टर
Image
जिला खाद्य आपूर्ति अधिकारी को 18 हजार रुपये की रिश्वत लेते लोकायुक्त ने किया गिरफ्तार
Image
महात्मा गांधी, एवं स्व. श्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती पर एक दिवसीय वालीबाल प्रतियोगिता का आयोजन, बरगवां यूथ ब्रिगेड रही विजेता
Image
टीका महा अभियान के तहत मेडियारास में हुआ सत प्रतिशत लक्ष्य
Image