अनूपपुर जिला डाक विभाग की जमीन को अतिक्रमण मुक्त कराया गया

 टी एल बैठक में कलेक्टर ने डाक विभाग की भूमि से अतिक्रमण हटाने दिए निर्देश तत्काल हुआ पालन



अनूपपुर (ब्यूरो) पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय अर्जुन सिंह के समय से लंबित पोस्ट ऑफिस के भवन की समस्या यथावत बनी रही।जो जमीन एलाट की गई वह विवादों में घिरी रही जिससे पोस्ट ऑफिस का भवन आज तक नहीं बन पाया। जबकि उस समय बजट का अलॉटमेंट भी कर दिया गया था लेकिन जमीन विवाद के चलते अनूपपुर पोस्ट ऑफिस भवन आज भी किराए के भवन में संचालित हो रहा है। कलेक्टर आशीष वशिष्ठ ने समय सीमा(टी एल) बैठक में डाक विभाग की भूमि से अतिक्रमण हटाने के निर्देश दिए।उनके निर्देश का तहसीलदार अनूपपुर ने तत्काल पालन करते हुए डाक विभाग की भूमि को पूरी तरह से अतिक्रमण से मुक्त तो करा दिया।लेकिन पता चला है कि वहीं पर सर्व शिक्षा अभियान की भी जमीन है जिस पर से अभी अतिक्रमण हटाना बाकी है।   मिली जानकारी के अनुसार पोस्ट ऑफिस के लिए 25 डिसमिल जमीन को तहसीलदार अनूपपुर ने अतिक्रमण से पूरी तरह से मुक्त करा दिया है।उन्होंने जेसीबी के माध्यम से कब्जा युक्त जमीन से बाउंड्री वॉल आदि को तोड़कर अतिक्रमण मुक्त कर पोस्ट ऑफिस को जमीन प्रदान कर दी है।निश्चित ही आने वाले समय में डाक विभाग अपने भवन निर्माण की कार्यवाही को अंजाम देगा जिससे उसका स्वयं का भवन बनकर शहर की शोभा बढ़ाएगा।      बताया गया कि खसरा क्रमांक 296 जो मध्यप्रदेश शासन में टोटल 3 एकड़ जमीन में से 45 डिसमिल जमीन है जिसमें 25 डिसमिल जमीन पोस्ट ऑफिस अनूपपुर और 50 डिसमिल जमीन सर्व शिक्षा अभियान अनूपपुर को आवंटित की गई है।बताया जाता है कि वह जमीन अभी अतिक्रमणकारिर्यो की गिरफ्त में है जिसे भी अतिक्रमण से मुक्त कराना जरूरी है।